Home Hindi Sex Stories गाँव मे मस्ती
Give me your site to advertise for Publisher to expand your business, websites much more.✹ Link Pop , ✹ Bennerd , ✹ Page Click Pop...Click Here.....
गाँव मे मस्ती
Date : October 19, 2015, 8:36:55 PM
Languages : Hindi
PageView : 000024551
Categoreies : Hindi Sex Stories
गाँव मे मस्ती
Gav Me Masti

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम विसाल हे ओर मेरी उम्र 23 हे मेरी लम्बाई 5.8′ हे ओर लंड इसकी तो बात ही ना पूछो जिसने भी मेरा लंड लिया हे उसको ही पूछो मेने अभी तक बहुत लड़कीयो को चोदा हे। अब ज्यादा बात नही करते हुए अपनी स्टोरी पर आता हू मेरे पापा एक गाँव मे टीचर हे ओर हम अहमदाबाद मे रहते हे तो कही बार हमे गाँव मे जाना होता हे ओर पापा टीचर हे तो सीधी सी बात हे घर मे लड़किया आती जाती रहती हे। ओर मे टीचर का बेटा तो मेरे से भी बहुत अच्छी तरह से लड़किया रहती हे। एक बार मे गाँव गया हुआ था ओर उस साइड मुझे मेरे कुछ काम भी था तो मुझे गाँव मे 1 महीने तक रहना था।

यह कहानी आप टॉप सेक्स वेबसाइट रूपसेक्स.कॉम (RoopSEX.CoM) पर पढ़ रहे हैं।

अगर अहमदाबाद मे होता तो यहा तो बहुत सारी लड़किया ओर भाभी हे चुदाई करने के लिए मगर गाँव मे तो मे नया था मगर गाँव मेरे लिए स्वर्ग जेसा बन गया था वो तो आप आगे पढ़ोगे पता चल जाएगा. मे गाँव के लिए निकल गया करीब 3 घंटे का रास्ता हे गाँव का अहमदाबाद से तो मे 3 घंटे मे तो गाँव पहुच गया ओर जब घर मे एंट्री ली तो पड़ोस वाली पायल मेरे घर पर ही बेठी हुई थी। मेने तो उसको देखते ही मन बना लिया की केसे इसको चोदू ओर वो क्या दिखती थी 32-26-36 उसकी फिगर होगे उसके रसीले आम छोटे छोटे उसकी पतली कमर ओर उसके कुल्हे क्या लग रहे थे मे तो देखकर ही दंग रह गया क्या लड़की थी गाँव मे भी मेने जाकर पापा मम्मी से मिला ओर उसको भी हाय बोला मगर उसको शायद हाय का पता नही चला कुछ नही बोली।
मेने उसके सामने हाथ बडाया ओर केसे हो पूछा तब उसने कहा ठीक हे ओर उसने उसका चिकना हाथ मेरे हाथ मे दे दिया ओर थोड़ी देर बाद वो घर चली गई. अब मुझे तो पायल को चोदना ही था तो वो जब भी मेरे घर मे आती कुछ लेने के लिए या देने के लिए मे उसको देखता रहता ओर तभी मम्मी ने मुझे कहा की यह पायल तुझे देख कर ही हमारे घर इतने ज़्यादा धक्के खा रही हे..।
तो मेने पूछा क्यू ऐसा तो मम्मी ने कहा की आज वो खेत मे भी नही गई तू आने वाला था ना इसलिए.. ओर नये कपड़े भी पहने हे.. अरे वाह मे तो खुश हो गया तब शाम को वो आई हमारे घर तो मेने उसे सामने से बुलाया की अब क्या कर रही हो तो उसने बोला की कुछ नही खेत मे जाते हे पढ़ाई पूरी कर ली तो मेने कहा बहुत अच्छा ओर मे तो मोका तलाश रहा था तो पूछा की खेत मे क्या उगाया हे कुछ खाने जेसी चीज़ तो उसने कहा हा.. हमारे खेत मे टमाटर ओर ककड़ी उगाई हे तो मेने बोला की मुझे भी खानी हे.. ककड़ी तो वो दोड़ती हुई अपने घर जाकर ककड़ी लेकर आ गई ओर उन्हे काट कर मुझे दी मेने खाते खाते उसकी चुचियो को देख रहा था इतने मे मम्मी को बाहर जाना हुआ ओर मम्मी बाहर चली गई। अब घर मे ओर पायल अकेले थे तो मेने उसे ज़्यादा सेक्सी नज़र से देखने लगा तो वो मेरी नज़र भा गई ओर पूछ लिया की क्या देख रहे हो…

यह कहानी आप टॉप सेक्स वेबसाइट रूपसेक्स.कॉम (RoopSEX.CoM) पर पढ़ रहे हैं।

तो मेने बोल दिया की तुम्हारे फिगर को ओर वो शरमा गई ओर हंसने लगी मुझे पता ही था हँसी मानो फसी मे उठकर उसके पास जाकर बेठ गया ओर प्रपोस कर ही दिया की मुजसे दोस्ती करोगे गाँव मे दोस्ती का मतलब चुदाई ही होता हे. वहा लड़के लड़की मे फ्रेंडशिप नही होती तो उसने भी कहा की तभी तो तेरा सुबह से इंतजार कर रही हू तब मेने उसको एक गाल पर किस किया ओर i love you बोला. तभी मम्मी आ गई ओर कुछ नही हुआ सारी रात मे पायल के बारे मे ही सोचता रहा दूसरे दिन मेने मम्मी को कहा की मुझे टमाटर खाना हे मे पायल के खेत जाकर ले आउ तो मम्मी ने भी बोला की तुमने खेत देखा हे.. एक काम करो पायल को साथ मे ले कर जाओ इतने मे पायल भी आ गई उसने आज वाइट कलर की ड्रेस पहनी हुई थी। ओर मम्मी ने पायल को कहा की खेत मे से टमाटर लेकर आओ ओर मुझे ले जाए तो मे भी पायल को इशारा किया ओर उसने कहा की ठीक हे.. तब मेने अपनी बाइक निकाली तो पायल हंसने लगी की खेत मे बाइक नही चलेगी चल कर जाना होगा.. तो मेने बाइक रख दी ओर साथ मे चलते हुए उसके खेत मे गये। वहा एक झोपड़ी बनाई हुई थी तो मे सीधा वही गया ओर लेट गया तो पायल मेरे पास आकर बेठ गई मेने उसकी गोद मे अपना सिर रख कर सो रहा था ओर उसकी चूची मेरे से टच हो रही थी। तब मेने पायल के गले को पकड़ कर उसका मूह नीचे किया ओर उसको होंठो पर किस दी. किस से ही पायल इतनी गर्म हो गई की वो ठीक से बोल नही सकती थी ओर मुजसे लिपट गई ओर मुझे उसने किस किया।
अब मे धीरे धीरे उसके चुचियो पर हाथ फेरने लगा तो वो ओर ज़्यादा गर्म हो गई अब तो क्या था। खेत मे कोई था नही तो मेने खटिया पर आ जाने को कहा ओर मेने उसका ड्रेस उतार दिया उसने ब्रा नही पहनी थी. सच कहता हू उसके जेसे चुचिया आज तक मेने नही देखी थी मेने शायद. 20 मिनट तक उसकी चूचियां चुसता रहा ओर उसकी आहह उहह माआआ रितुउउउ ऐसी आवाज़ सुनता रहा अब मेरा लंड भी खड़ा हो रहा था। तब मेने झट से उसका पायजामा निकाल दिया उसने पेंटी पहनी हुई थी। मगर उसकी चूत इतनी फूली हुई थी की मे उसे पेंटी के भीतर से ही देख रहा था. अब मे उसकी चूत पर उंगली ले गया ओर उसकी चूत को सहलाने लगा उपर से ही।
अब उसकी बरदास्त से बाहर था तो उसने मेरा हाथ ज़ोर से दबाते हुऐ चूत से दबा दिया मगर मेरी तो आदत हे लड़की को पहले तडपाना तो मेने उसकी पेंटी मे हाथ डाल कर उसके पॉइंट को टच किया तो वो उछल पड़ी ओर आहे भरने लगी उसकी धड़कने इतनी तेज़ हो गई थी की मानो तूफान मिल अब वो बुरी तरह कहराने लगी थी ओर आहह माआआ अब नही बस करूऊऊऊ अब बहुत हो गया.. अब ज्यादा ना करो ऋतु यार दुसरा कल कर लेना.. याररर्र्ररर कर रही थी मगर मे थोड़ी मानने वाला था।

यह कहानी आप टॉप सेक्स वेबसाइट रूपसेक्स.कॉम (RoopSEX.CoM) पर पढ़ रहे हैं।

मेने अपनी एक उंगली उसकी चूत मे डाल दी आह क्या गर्म चूत थी उसकी यार मेने अब उंगली अंदर बाहर करने लगा थोड़ी ही देर मे वो झड़ गई ओर उसने अभी तक उसकी आखे नही खोली थी. झड़ने के बाद उसने अपनी आखे खोली ओर बोला की बहुत हो गया अब घर चले तो मेने कहा की तुम्हारा तो हो गया.. मेरा क्या तो वो हसने लगी ओर बोली की यहाँ तुम ऐसा करोगे मेने कहा हाँ क्यू नही तो उसने कुछ नही बोला उसकी भी इच्छा तो थी मगर बोल नही रही थी तो मे उसके मुहँ से सुनना चाहता था की मुझे चोदो। तब मेने अपना चिकना लंड निकाला ओर उसके पेट पर रगड़ने लगा तो उसको कुछ गर्म अहसास हुआ तो आँखे खोली ओर फिर से बंद कर ली। मेने फिर उसके दोनो पेरो को थोडा खोला ओर उसकी चूत के पॉइंट पर अपनी जीभ रख दी ओर उसको टटोलने लगा. अब वो मछली की तरह उछल रही थी. ओर उसने मेरे बाल को ज़ोर से पकड़ा मगर मेने उसकी चूत को चूसना नही छोड़ा।
ओर वो बस आह.. मर गईईई अब बस भी करो आआह.. कर रही थी. तब उसके मूह से आवाज़ आई ऋतु अब ज़्यादा इंतजार ना करवाओ अपना वो मेरी मे डाल ही दो तो मेने कहा क्या तो वो कुछ ना बोली तो मेने कहा की आपको जो करना हो वो खुद कर लीजिए.. तो उसने सच मे मेरा लंड पकड़ा ओर अपना थूक लगाया वहा. कहा तेल लेने जाते इसलिय ओर उसकी चूत पर मेरा लंड रखते हुये बोली की अंदर डालो ना आ..आ. अब मुझसे भी पायल की दशा देखी नही गई वो इतनी उतेज़ित हो गई थी की पूरी लाल हो गई थी।
अब मेने एक धीमा सा धक्का दिया मगर उसकी चूत कुछ ज़्यादा ही टाईट थी ओर वो आआह कर गई. मेने कहा कुछ हुआ तो बोली कुछ नही अब पायल को मेरा लंड ही लेना था तो उसको दर्द भी नही देख रही थी. मेने अब लंड बाहर निकाल कर फिर से सेंटर पर रखकर ज़ोर से धक्का दिया तो मेरा आधा लंड उसकी चूत फाड़ के अंदर घुस गया ओर वो ज़ोर से आह.. माँ मर गई अरे क्या किया… करती रही. ओर मेने देखा तो उसकी चूत मे से खून भी निकल रहा था तो मेने उसे कहा की सब्र करो अभी तो आधा ही गया हे तो वो आहह.. अब नही बस इतने मे ही पूरा कर लो बस.. करती रही। जब वो शांत हुई तो खुद ही अपने कुल्हे उछालने लगी मे समझ गया की उसका दर्द कम हो रहा हे तो मेने धीमे धीमे धक्के देना शुरू किया तो अब वो भी गांड उछाल कर साथ दे रही थी।
फिर उसने कहा की थोड़ा ओर अंदर डालना हो तो डालो.. मेने कहा नही अब नही तू चीखती हे तो वो बोली अब नही चीखूंगी। उसको चहिये तो था मगर बोल नही सकती थी शहर की लड़की की तरह। तब मेने थोड़ा ओर ज़ोर लगाया तो ओर अंदर घुस गया ओर वो आहह.. माआआ.. बोली मेने कहा कुछ हुआ तो बोली नही अब तो पूरा डाल ही दो तो मे भी यही चाहता था। पूरा लंड निकाल कर ज़ोर का धक्के से पूरा का पूरा अंदर डाल दिया ओर वो अहमाआ.. रितुऊ.. यररर इतना जोर से नही डालते आहह.. मार दिया तूने आहह.. करने लगी।

यह कहानी आप टॉप सेक्स वेबसाइट रूपसेक्स.कॉम (RoopSEX.CoM) पर पढ़ रहे हैं।

मेने उसे होंठो पर किस की ओर जब वो शांत हुई तो धक्के देने शुरू किए अब वो भी आहह वाहह.. अच्छा लगा पूरा डालिए आहा.. मज़ा आ गया.. तुम रोज डालना आहह माआअ.. करने लगी ओर मे भी उसको चोदने लगा।
अब उसकी आवाज़ मे हवस वाली आवाज होने लगी तो मे समझ गया की वो दूसरी बार झड़ने वाली हे तो मेने थोड़ा तेज़ धक्का लगाना शुरू किया तो वो तुरंत झड़ गयी ओर उसने मुझे कस कर पकड़ लिया। उसके नाखुन मेरी पीठ मे लगे ओर जब उसका सारा पानी चूत मे गया तो मे फिर से शुरू हो गया। अब मेने बड़े बड़े स्ट्रोक लेने लगा ओर उसकी चूत मे से पच पच की आवाज़ आ रही थी. 15 मिनिट चोदने के बाद मेने उससे पूछा की मे झड़ने वाला हू.. तो उसने बोला की अंदर मत झड़ना कुछ हो गया तो मेने कहा ठीक हे ओर मेने पूरा का पूरा माल उसके बदन पर छोड़ दिया।
अब मे शांत हो गया अब मे उसके बाजू मे लेट गया मगर मे जब झडा तब वो भी झड़ने की तेयारी मे थी मगर मेने लंड बाहर निकाल लिया तो वो झड़ ना पाई तो उसने कहा की क्यू अब कुछ नही करोगे.. तो मेने कहा की अब तो तभी कुछ हो सकता हे की जब तूम मेरे लंड को जगाओ वो इतनी गर्म थी। तब की वो अब मेरे से बिल्कुल घुल गई थी तो उसने मेरा लंड अपने हाथ मे लेकर हिलाने लगी ओर थोड़ी देर मे तो मूह मे ले लिया ओर अब फिर से मेरा लंड अंगड़ाई लेने लगा तब उसने कहा की लो इसको तो जगा दिया। अब कुछ करो जल्दी तो मेने उसको डोगी स्टाईल मे लाया ओर उसकी चूत मे अपना लंड डाल कर चोदा.

यह कहानी आप टॉप सेक्स वेबसाइट रूपसेक्स.कॉम (RoopSEX.CoM) पर पढ़ रहे हैं।

मेने उसे खेत मे उस दिन 3 बार चोदा अब वो इतनी थक गई थी की उसने कहा की अब नही मुझसे उठा भी नही जा रहा हे.. तब मेने पूछा की कितनी बार झड़ी तो उसने बोला 5 बार तो आप समझ ही गये होगे 5 बार झडने से क्या हाल होता हे तब हम घर के रास्ते निकल पड़े. मगर उससे चला नही जाता था तो मेने उसे गोदी मे ले लिया था ओर हम घर पहुचे वो बहुत ही खुश दिख रही थी ओर रात को जब वो मेरे घर आई तो मुझे अकेला पाकर उसने कहा की कल अगर बाहर जाओ तो गोलीया लेकर आना.. जिससे आपको आपका माल बाहर ना निकालना पड़े.. आप समझ ही गये ना की वो कितनी खुश थी।
यह मेरी सच्ची स्टोरी हे इसमे कुछ ग़लत नही हे। अगर आपको स्टोरी पसंद आए तो मुझे कमेन्ट जरुर करना।

आप अपने बिचार यहाँ भेजें।

[email protected]
✉ Comment :
Enter Add Two Numbers :
2+9=

Jimbo Jimbo
Gender : Female | Age : AydUZEmX | September 22, 2017, 4:47:33 AM[email protected]
Janais Janais
Gender : Female | Age : PCGhNOTjTrwi | September 21, 2017, 6:09:56 AM[email protected]
Lorena Lorena
Gender : Other | Age : wzzIYH9PYV | September 17, 2017, 6:46:05 AM[email protected]
Bayle Bayle
Gender : Other | Age : kbrWPT5FB | September 17, 2017, 6:02:07 AM[email protected]
Geri Geri
Gender : Other | Age : kGKdvx3dRJp | September 16, 2017, 7:19:55 AM[email protected]
Namari Namari
Gender : Other | Age : 5EclKkQuuf | September 13, 2017, 8:51:04 PM[email protected]
Anisha Anisha
Gender : Male | Age : 6J0DME8ChKW | September 12, 2017, 11:40:29 AM[email protected]